Saddam

Adulteration Essay in Hindi- मिलावट पर निबंध

 
Adulteration Essay in Hindi

Adulteration Essay in Hindi- मिलावट पर निबंध


हेलो दोस्तों आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से Adulteration Essay in Hindi मतलब की मिलावट पर निबंध को पढ़ेगें! मिलावटखोरी भारत की एक बहुत ही मुख्य समस्या है! इस आर्टिकल में हम मिलावट के बारे में बात करेगें! मै उम्मीद करता हूँ की आपको  Essay On Adulteration in Hindi पसंद आयेगा! यदि आपको Essay On Adulteration in Hindi पसंद आये तो इसको अपने दोस्तों के साथ शेयर करे!


आज कल हम हर एक जगह पर देखते है की लोग हर एक चीज़ में मिलावट करते है! आज के हमारे भारत देश में मिलावट एक तरह से एक रोग बन गया है! दूध से लेकर दाल तक हर एक चीज़ में मिलवात होती है! यदि हम कोई ऐसी चीज़ का सेवन करते है जिसमे मिलवात हुई है तो इससे हमको काफी नुकसान का सामना भी करना पड़ता है! मिलावटी चीज़ खाने से हमारा सेहत खराब हो जाता है! आज कल सभी दुकानदार के लिए मिलावट का धंधा करना एक बहुत ही आम बात हो गयी है!


हमारे  भारत सरकार के सामने मिलावट एक बड़ी बीमारी हो गयी है! और  मिलावट की बीमारी दिन प्रतिदिन बहुत ही तेजी से बढती जा रही है! जो दुकानदार मिलवात का काम करते है उनको कई तरह से फायदा होता है! जैसे की यदि कोई दुकानदार 10kg दाल में आधा किलो कंकर डालकर उसको बेचे तो उस दुकानदार को 10 kg के बजाये 10.50 के जितना paisa मिलेगा! इन्ही सभी फायदे की वजह से सभी लोग अपने हर एक समान में मिलावट करते है! आज के समय में हर एक चीज़ में ज्यादा पैसे कमाने के लिए मिलावट की जाती है! मिलावट के खिलाफ हमारे भारत सरकार को कोई बहुत ही ठोस कदम उठाना चाहिये! ताकि मिलावट का ये धंधा हमारे समाज से खत्म हो सके!


यदि कोई आम आदमी मिलावट  के बारे में सुनता है तो उसके मन में सबसे पहला सवाल ये आता है की आखिर ये मिलावट का मतलब क्या होता है! जब किसी प्राकृतिक अथवा मानव के द्वारा बनाये गए चीज़ में बाहर से किसी चीज़ का मिश्रण किया जाता है तो उसको मिलावट पदार्थ कहाँ जाता है! आज कल लोग ज्यादा मुनाफे कमाने के चक्कर में सभी चीजों में बहुत ही अधिक पैमाने पर मिलावट कर रहे है! किसी भी  प्राकृतिक अथवा मानव के द्वारा बनाये गए चीज़ में बाहर से किसी चीज़ का मिलावट करना दुसरे के लिए बहुत ही घातक हो सकता है! सभी ब्यापरी और दुकानदार मिलावट का धंधा नहीं करते है! कुछ ही ऐसे ब्यापरी और दुकानदार होते है जो रातो रात अमीर बनाने के चक्कर में मिलावट का धन्धा करते है!


आज के समय में यदि आप market में जाये तो आपको पुरे market में शायद ही कोई ऐसी चीज़ मिलेगी जिसमे मिलावट  ना किया गया हो! आज कल शुद्धता के नाम पर बाजार में कुछ नहीं मिलता है! एक समय था जब लोग केवल दूध, घी , जैसे चीज़ में मिलावट करते है! लेकिन आज के समय में आपको हर एक चीज़ में मिलावटखोरी दिखाई देगी! सीमेण्ट से लेकर खाने के रगो तक सभी चीजों में मिलावट की जाती है! दूध में पानी मिलाने की बात को अब बहुत पुरानी हो गयी है! आज के समय में दूध नहीं केवल सफ़ेद रंग का पानी बिकता है! हमारे समाज में मिलावटखोरी का ये धंधा बहुत ही तेजी से बढता जा रहा है! मिलावटखोरी पर लगाम लगान बहुत जरुरी हो गया है!


जब दुकानदार और ब्यापारी खाने के सामान में मिलावटखोरी करते है तो उस सामान को खाने वाले लोग बीमार पढ़ जाते है! बहुत से ऐसे लोग भी है जिनको मिलावटखोरी का समान खाने के वजह से कई तरह की बीमारिया हो गयी है! आज हमारे देश में चिकित्सा के छेत्र में दवा जैसी दूसरी चीजों में मिलावटखोरी करके हमारे जीवन के साथ खेला जा रहा है! हमारे समाज में कई कैसे ऐसे  उदहारण है जिनको अशुद्ध दवा के अभाव में अपने जान से हाथ धोना पडा! चिकित्सा के साथ साथ हर एक छेत्र में मिलावट का धंधा होता है! आज के समय में दाल में दाल से ज्यादा कंकर होते है, और डिब्बा बन्द वस्तु में सडा हुआ माल भरा होता है! आश्चर्य की बात तो ये है की सरकार के द्वारा बनाये गए चीजों में भी मिलावट की हुई होती है!


आज भारत भले ही दुनिया के सामने एक शक्ति के रूप में उभर रहा है लेकिन फिर भी वह मिलावटखोरी जैसी समस्या से जूझ रहा है!  मिलावटखोरी जैसी समस्या भारत के विकास में बाधा बन रही  है! भारत सरकार को मिलावटखोरी करने वाले लोगो के ऊपर अपना सिकंजा कसना होगा! और मिलावटखोरी करने वाले लोगो को अच्छा सबक सिखाना होगा! मिलावटखोरी करना एक तरह से एक अपराध है! इसलिए आपको कभी भी इस अपराध को नहीं करना चाहिये! केवल भारत सरकार की मदद से मिलावटखोरी की समस्या नहीं हल होगी बल्कि मिलावटखोरी की समस्या को खत्म करने के लिए हम सभी लोगो को भी अपना योगदान देना होगा! यदि आपके पास पास कोई मिलावटखोरी का धन्धा करता हो तो उसकी सुचना आप तुरंत पुलिस को दे! आपके द्वारा किया गया ये एक छोटा सा काम मिलावटखोरी को खत्म करने के लिए  बहुत बड़ा काम होगा!


यदि हमारे देश हर एक ब्यक्ति मिलावटखोरी के खिलाफ आवाज उठाकर मिलावटखोरी करने वाले की सुचना तुरन्त पुलिस को देने लगे तो हमारे देश से मिलावटखोरी की समस्या खत्म हो जाएगी! तो चलो दोस्तों आज हम सभी लोग मिलकर मिलावटखोरी के खिलाफ ये आवाज उठाते है! और देश से मिलावटखोरी करने वाले लोगो का सफाया करते है! मै उम्मीद करता हूँ की यदि आप अपने आस पास किसी मिलावट करने वाले को देखते है तो आप उसकी सुचना तुरंत पुलिस को देगें!


मै उम्मीद करता हु की आपको Adulteration Essay in Hindi पसंद आया होगा! यदि आपको ये Adulteration Essay in Hindi Language पसंद आया है तो इसको अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले!


प्रिय मित्रो यदि आपके पास भी  Adulteration Essay in Hindi से related कोई इनफार्मेशन हो तो आप उस  इनफार्मेशन को मेरे पर्सनल ईमेल  [email protected] पर भेज सकते है!. हम आपके उस इनफार्मेशन को आपके नाम और फोटो के साथ अपने वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे!


आपके पास Essay On Adulteration in Hindi में और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें email करके बताये हम इसको update करते रहेंगे! अगर आपको Essay On Adulteration in Hindi अच्छा लगे तो इसको  facebook पर share कीजिये.


Tag-  food adulteration hindi, article on food adulteration in hindi, food adulteration wikipedia in hindi, khane mein milawat in hindi, milawat in food in hindi, khadya padarth me milawat in hindi, essay on khadya padarth me milawat in hindi, milawat par nibandh, essay on milawat in hindi, essay on adulteration in hindi...