Saddam

Dr Rajendra Prasad Biography In Hindi- डॉ राजेंद्र प्रसाद का जीवन परिचय

Dr Rajendra Prasad Biography In Hindi


Dr Rajendra Prasad Biography In Hindi- डॉ राजेंद्र प्रसाद का जीवन परिचय

हेलो दोस्तों आज हम Dr Rajendra Prasad Biography In Hindi मतलब की डॉ राजेंद्र प्रसाद का जीवन परिचय पढेंगे! भारत का इतिहास गवाह है की बिहार अनेक महापुरुषों की जन्मस्थान रहा है! हमारे भारत के बहुत से ऐसे महापुरुष है जिनका जन्म बिहार में हुआ! बिहार में अशोकचन्द्रगुप्त जैसे और भी महान लोगो का जन्मस्थल रहा है! इन सभी महापुरुष की list में हमारे आजाद भारत के पहले राष्टपति भारत रत्न डॉ. राजेंद्र प्रसाद का भी नाम आता है!  डॉ. राजेंद्र प्रसाद बचपन से ही प्रतिभा के धनी थे! जिस समय बिहार , बंगाल , और उड़ीसा राज्य की प्रवेश exam सम्मलित रूप में होती थी! उस समय  डॉ. राजेंद्र प्रसाद सबसे पहले स्थान पर आये थे! 

हम लोग इसी बात से  डॉ. राजेंद्र प्रसाद के प्रतिभा का अनुमान लगा सकते है! जब teacher डॉ. राजेंद्र प्रसाद की पुस्तक को जाँच रहा था तब teacher ने उत्तर पुस्तिका पर लिखा था की स्टूडेंट teacher से ज्यादा योग्य है! इस तरह की टिप्पणी किसी के विषय में देना अपने आप में एक बहुत बड़ी बात है! इस तरह की टिप्पणी आज के समय में भी नहीं दिया जाता है! आजाद भारत के पहले रास्ट्रपति बनकर डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने " होनहार बिरवान के होत चीकने पात" वाली कहावत को सही कर दिया! डॉ. राजेंद्र प्रसाद अपने प्रतिभा और लगन के कारण ही हमारे आजाद भारत के पहले रास्ट्रपति चुने गए! डॉ. राजेंद्र प्रसाद जैसी महान बिभूति पर हमारे भारत देश को गर्व है! 

अगर बात की जाये डॉ. राजेंद्र प्रसाद के जन्म की तो डॉ. राजेंद्र प्रसाद का जन्म 3 दिसम्बर 1884 को बिहार प्रान्त के सारण जिले के जिरोदेई नामक ग्राम में एक बहुत ही साधरण परिवार में हुआ था! चुकी डॉ. राजेंद्र प्रसाद का परिवार एक बहुत ही साधरण परिवार था इसलिए उनके घर में हमेशा आर्थिक तंगी रहती थी! आर्थिक तंगी के कारण  डॉ. राजेंद्र प्रसाद का पालन पोषण सभी चीजों के अभावों में हुआ था! लेकिन डॉ. राजेंद्र प्रसाद के घर की आर्थिक तंगी उनकी पढाई में बाधक नहीं बन सकी! high school से लेकर M.A. तथा M.L तक की सभी exam में डॉ. राजेंद्र प्रसाद प्रथम आये थे! हर एक क्लास में first क्लास से पास होना डॉ. राजेंद्र प्रसाद को एक प्रतिभावान ब्यक्ति शाभित करता था!


M.L की पढाई करने के बाद डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने जल्दी ही वकालत प्रारंभ कर दी जो बहुत ही अच्छी तरह से चलने लगी! अब डॉ. राजेंद्र प्रसाद के परिवार के लोग बहुत खुश थे! क्योकि डॉ. राजेंद्र प्रसाद की सहायता से उनके परिवार की आर्थिक तंगी धीरे धीरे खत्म होने लगी थी! लेकिन इसके बाद भी डॉ. राजेंद्र प्रसाद को गुलाम भारतीयों का कष्ट देखा नहीं जा रहा था! डॉ. राजेंद्र प्रसाद को अपने परिवार के कष्ट से ज्यादा इन करोडो भारतवासियों का कष्ट ज्यादा दुखदायी लगा! इसलिए डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने वकालत को छोड़कर गाँधी जी के साथ आजादी की लड़ाई में सिपाही बन गए! 1917 में जब गाँधी जी चंपारण आन्दोलन के सिलसिले में बिहार गए तो डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने उनका पूरा सहयोग किया! तभी से लोग डॉ. राजेंद्र प्रसाद को बिहार का गाँधी कहकर पुकारने लगे! 

डॉ. राजेंद्र प्रसाद को भारत की आजदी की लड़ाई के लिए बहुत बार जेल जाना पडा! इसके साथ साथ इनको शारीरिक यातनाये भी दी गयी! जिसके कारण डॉ. राजेंद्र प्रसाद को दमा का रोग हो गया! अंग्रेजो के द्वारा दिए गए बहुत सारे  शारीरिक यातनाये भी डॉ. राजेंद्र प्रसाद की हिम्मत को तोड़ नहीं पायी! और वह और जोश के साथ स्वतंत्रा आन्दोलन में भाग लेते रहे! 


जब भारत देश आजाद हुआ तब डॉ. राजेंद्र प्रसाद को उनके प्रतिभा के अनुरूप भारतीय संबिधान सभा का अध्यक्ष बनाया गया! यह इनकी मेनहत और प्रतिभा का ही फल था की भारत को बहुत की कम समय में 90000 शब्दों का एक विशाल संबिधान मिल गया! 26 जनवरी 1950 को इनको पुरे सम्मान के साथ आजाद भारत का पहला रास्ट्रपति बनाया गया! डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने रास्ट्रपति भवन में रहकर जिस सादगी का परिचय दिया वह अपने आप में एक अनूठी मिसाल है! डॉ. राजेंद्र प्रसाद  रास्ट्रपति की बिस्तर को छोड़कर एक आम आदमी की तरह चौकी पर सोते थे! उस समय रास्ट्रपति का बेतन 10000 था! डॉ. राजेंद्र प्रसाद को 10000 बहुत ज्यादा पैसे लगते थे इसलिए वह केवल हर महीने 2500 रूपए ही लेते थे! केवल 2500 रूपए से ही वह अपना पूरा खर्चा चलते थे! इस प्रकार हम कह सकते है की डॉ. राजेंद्र प्रसाद भारत के रास्ट्रपति होने के बाद भी एक आम आदमी की तरह अपना जीवन ब्यतीत करते थे! जो की उनको एक महान आदमी बनाता है! 


रास्ट्रपति बनाने के कुछ सालो बाद से उनकी तबियत अक्सर खराब होने लगी! जिस कारण डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने 14 मई 1962 को रास्ट्रपति पद से अवकास लेकर पटना के सदाकस आश्रम में एक सन्यासी की भाति रहने लगे! 28 जनवरी 1963 को इनकी मौत हो गयी! जिस दिन इनकी मौत हुई थी उस दिन पूरा भारत शोक की लहर में खो गया! बाद में इस महान सपूत को भारत रत्न से नवाजा गया! डॉ. राजेंद्र प्रसाद का जीवन सभी के लिए प्रेरणा से भरा है! हम सभी को उनके जीवन से कुछ ना कुछ सीखना चाहिये! 


मै उम्मीद करता हु की आपको  Dr Rajendra Prasad Biography In Hindi पसंद आया होगा! यदि आपको ये Dr Rajendra Prasad Biography In Hindi Language पसंद आया है तो इसको अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले!

प्रिय मित्रो यदि आपके पास भी  Dr Rajendra Prasad Biography In Hindi से related कोई इनफार्मेशन हो तो आप उस  इनफार्मेशन को मेरे पर्सनल ईमेल  [email protected] पर भेज सकते है!. हम आपके उस इनफार्मेशन को आपके नाम और फोटो के साथ अपने वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे!


आपके पास  Dr Rajendra Prasad  In Hindi में और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें email करके बताये हम इसको update करते रहेंगे! अगर आपको Dr Rajendra Prasad In Hindi Language अच्छा लगे तो इसको  facebook पर share कीजिये.


Tag- dr rajendra prasad in hindi, dr rajendra prasad in hindi information, dr rajendra prasad in hindi essay, dr rajendra prasad quotes in hindi, dr babu rajendra prasad in hindi, dr. rajendra prasad biography in hindi pdf, dr rajendra prasad history in hindi pdf, dr rajendra prasad info in hindi, dr rajendra prasad in hindi pdf, about dr rajendra prasad in hindi, about dr rajendra prasad in hindi language, dr rajendra prasad hindi biography, dr rajendra prasad biodata in hindi, quotes by dr. rajendra prasad in hindi, books written by dr rajendra prasad in hindi, work done by dr rajendra prasad in hindi, dr rajendra prasad details in hindi, short essay on dr rajendra prasad in hindi language, freedom fighter dr. rajendra prasad in hindi, dr rajendra prasad first president of india in hindi, dr rajendra prasad in hindi history, dr rajendra prasad life history in hindi, dr rajendra prasad president of india history in hindi, dr. rajendra prasad information in hindi language, short information on dr rajendra prasad in hindi, dr rajendra prasad jeevani hindi, dr rajendra prasad jeevan parichay in hindi, dr rajendra prasad in hindi language, dr. rajendra prasad biography in hindi language, dr rajendra prasad name in hindi, biography of dr rajendra prasad in hindi, essay on dr rajendra prasad in hindi, slogan of dr rajendra prasad in hindi, biography of dr rajendra prasad in hindi pdf, dr rajendra prasad profile in hindi, short paragraph on dr rajendra prasad in hindi, dr rajendra prasad quotes hindi, dr rajendra prasad speech in hindi, dr rajendra prasad thoughts in hindi, dr rajendra prasad quotes in hindi,  Dr Rajendra Prasad Biography In Hindi,  Dr Rajendra Prasad Biography In Hindi Language, Dr Rajendra Prasad  In Hindi,Dr Rajendra Prasad  In Hindi Language...